जबेरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

जबेरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता


जबेरा से  अनुराग जैन की रिपोर्ट -

अबैध शराब का परिवहन कर रही कार सहित भारी मात्रा में शराब जप्त,

एएसआई गोस्वामी की टीम ने जान की परवाह किये बगैर कार, अबैध शराब को पकड़ा


जबेरा - पुलिस अधीक्षक डी आर तेनिवार के निदेशन में जिले भर मेंअवैध शराब पकड़ने की मुहिम चलाई जा रही है।जिससे पुलिस द्वारा सभी थानो में जगह जगह दबिश देकर कार्यवाही की जा रही है ।जबेरा में भी नवागत थाना प्रभारी इंद्रा सिंह द्वारा भी जगह जगह दविश देकर अबैध शराब कारोबारियों के विरूद्ध कार्यबाही की जा रही है। ऐसी ही एक सूचना मुखबिर द्वारा 100 डायल वाहन पर तैनात आरक्षक प्रशांत तिवारी को लगी कि एक काले रंग की कार हुंडाई एसेंट, जिसका नंबर DL7CL9703 है।जो तेज रफ्तार में आ रही जिसमे कुछ अबैध समान रखे होने की संभावना है।,उक्त जानकारी एएसआई गोस्वामी सहित थाना प्रभारी इंद्रा सिंह को दी।थाना प्रभारी ने एएसआई सत्यनारायण गोस्वामी को पुलिस बल के साथ बाहन का पीछा कर रोकने निर्देशित किया।लगातार थाना जबेरा की शासकीय बाहन ब 100 डायल बाहन ने काले रंग की तेज रफ्तार से भाग रही गाड़ी का पीछा अपनी जान की परवाह किये बगेर किया। ग्राम चंडी चोपरा के पास सिमरी जालम सड़क पर अचानक गाड़ी का टायर फट जाने से गाड़ी बही खड़ी हो गई।और चालक अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकला ।पुलिस ने गाड़ी के घेरा बंदी की ओर छानबीन के लिए और उसे जब खोला तो उसमें खाकी रंग के कार्टून थे। जिसमें करीब 278 पाव करीब 55 लीटर 600 एम एल देसी शराब मिली। जिसकी कीमत करीब 34750 शराब आंकी जा रही है। जबेरा पुलिस द्वारा अज्ञात चालक आरोपी पर उक्त कृत्य अपराध क्रमांक 34(2) आबकारी एक्ट के तहत दंडनीय पाए जाने से अपराध क्रमांक 203/21 की धारा 34(2) आबकारी एक्ट का मामला पंजीकृत कर विवेचना में लिया। उक्त कार्यावाही में थाना प्रभारी इन्द्रा सिंह ,एएसआई सत्यनारायण गोस्वामी ,आरक्षक राजकुमार रोहित ,प्रशांत तिवारी, रघुराज सिंह, प्रमोद बेन, सैनिक भोपाल ,नगर रक्षा समिति सदस्य दीपेश मेहरा एवं हंड्रेड डायल चालक महेंद्र सिंह का सराहनीय सहयोग रहा है।