कोविड प्रोटोकाल को लेकर कैमोर के व्यापारियों , प्रबुद्ध नागरिकों और शांति समिति की सदस्यों की थाना में ली गई बैठक - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

कोविड प्रोटोकाल को लेकर कैमोर के व्यापारियों , प्रबुद्ध नागरिकों और शांति समिति की सदस्यों की थाना में ली गई बैठक



कटनी से पंकज गुप्ता व राकेश चक्रवर्ती की रिपोर्ट -

पुलिस अधीक्षक कटनी श्री मयंक अवस्थी (भा.पु. से. ) के निर्देश पर टी आई कैमोर अरविंद जैन ने लॉकडाउन हटाए जाने पर आगामी दिनों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन किए जाने के संबंध में नगर के व्यापारिक बंधुओं, प्रबुद्ध नागरिक गणों , शांति समिति के सदस्यों एवं मीडिया बंधुओं की उपस्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठक का आयोजन किया गया । बैठक में टी आई कैमोर अरविंद जैन ने बताया कि सुबह 10:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक दुकान खोलने की अनुमति होगी, जिसमें किसी भी प्रकार की भीड़भाड़ से बचना है । नो मास्क - नो सर्विस , नो मास्क - नो मूवमेंट और रूल ऑफ़ सिक्स के बारे में विस्तार से बताया गया । थाना प्रभारी ने समाज के सभी वर्गों से महामारी के समय प्रोटोकॉल के पालन किए जाने हेतु अनुरोध किया। बैठक में प्रभारी सीएमओ नगर परिषद कैमोर पृथ्वीराज सिंह ने आगामी दिनों में प्रतिबंधित गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया । बैठक में बताया गया कि सभी प्रकार की सामाजिक, राजनीतिक, खेल ,मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन , मेले प्रतिबंधित रहेंगे । स्कूल, कॉलेज शैक्षणिक संस्थाएं , कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे । सभी धार्मिक पूजा स्थल पर एक समय पर 4 से अधिक व्यक्ति उपस्थित नही रहेंगे । अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 लोगों की अनुमति होगी । विवाह समारोह में दोनों पक्षों के मिलाकर 20 लोगों कि अनुमति होगी जिनके नाम की सूची आयोजन के पूर्व प्रशासन को देनी होगी। प्रत्येक रविवार जनता कर्फ्यू रहेगा। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ थाना कैमोर परिसर में आयोजित इस बैठक में उपस्थित व्यापारियों और प्रबुद्ध नागरिकों ने अपनी सहमति देकर अपनी जिम्मेदारी स्वीकार की।