ब्लैक फंगस जबलपुर समेत पांच मेडिकल में बनेंगे वार्ड दो हजार इंजेक्शन देगा सन फार्मा - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

ब्लैक फंगस जबलपुर समेत पांच मेडिकल में बनेंगे वार्ड दो हजार इंजेक्शन देगा सन फार्मा

भोपाल से संतोष जैन की रिपोर्ट -




ब्लैक फंगस जबलपुर समेत पांच मेडिकल में बनेंगे वार्ड दो हजार इंजेक्शन देगा सन फार्मा
कोरोना का साइड इफेक्ट सीएम शिवराज ने केंद्रीय मंत्री और विशेषज्ञों से की चर्चा
इंदौर में सबसे ज्यादा चार की मौत
एक फैकल्ट्री की मौत पोफेसर सहित एक युवक की निकालनी पड़ी आख
मध्य प्रदेश अब तक 8 लोगों की मौत
हरियाणा ब्लैक फंगस नोटिफाइड रोग
अब तक 250 से ज्यादा केस
तीसरी लहर 13.5 लाख बच्चे आ सकते हैं जद में
अब पूल बना कर काम करेंगे डॉक्टर
प्रदेश में 0 से 6 साल तक के 1. 35 करोड़ मासूम

म्यूकरमाईकोसिस ब्लैक फगस से निपटने के लिए राज्य सरकार ने तैयारी तेज कर दी है अब प्रदेश के जबलपुर भोपाल इंदौर ग्वालियर और रीवा मेडिकल कॉलेज में इस बीमारी के इलाज के लिए वार्ड बनाए जाएंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके बचाव और इलाज को लेकर शनिवार को विशेषज्ञों एवं ग्रुप ऑफ़ ऑफिसर से चर्चा की वर्चुअल एंड इनफॉरमेशन सिस्टम इन डेवलपिंग कंट्रीज आईएस के डायरेक्टर जनरल सचिन चतुर्वेदी सहित विभिन्न विशेषज्ञ शामिल हुए सीएम ने केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडवीया से भी फोन पर चर्चा कर ब्लैक फंगस के उपचार में प्रयोग होने वाले इंजेक्शन की मांग की

अब तक 250 से ज्यादा केस

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा राज्य सरकार ब्लैक फंगस बीमारी का इलाज निशुल्क कराएगी एंटी फंगल इंजेक्शन उपलब्ध कराएगी इसके लिए कई फार्मा कंपनियों से बात चल रही है उन्होंने जिले के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से भी कहा ध्यान रखा जाए कि इस बीमारी की दवा और इंजेक्शन की कालाबाजारी ना हो

तीसरी लहर 13.5 लाख बच्चे आ सकते हैं जद में


अब पूल बनाकर काम करेंगे डॉक्टर

कोरोना की दूसरी लहर अभी थमी नहीं है इसी बीच में विशेषज्ञ ने तीसरी लहर की आशंका जता दी है यह कितनी घातक होगी इसका पता नहीं लेकिन इसमें बच्चों पर ज्यादा प्रभाव पड़ने का अनुमान जताया जा रहा है यह बात डराने वाली जरूर है लेकिन राज्य में इस संकट से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने तैयारी शुरू कर दी हैं जरूरत पड़ने पर डॉक्टर पूल बना कर काम करेंगे बच्चों के लिए जिला अस्पतालों में आईसीयू तैयार किए जा रहे हैं