मोखा अस्पताल में नजरबंद विहिप ने पद से हटाया - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

मोखा अस्पताल में नजरबंद विहिप ने पद से हटाया

जबलपुर से संतोष जैन व गजेंद्र सिंह की रिपोर्ट -

मोखा अस्पताल में नजरबंद विहिप ने पद से हटाया
जबलपुर नकली रेमदेसीविर इंजेक्शन खपाने के आपराधिक षड्यंत्र का मामला गिरफ्तारी के डर से हुआ भर्ती
क्षितिज ने मुहैया कराया नंबर
मेहंदी के माध्यम से पहुंचाई रकम
बनाई एसआईटी
नकली बिल देखा फिर भी लगवाए इंजेक्शन
फार्मेसिस्ट गिरफ्तार देर रात पुलिस ने अस्पताल और घर पर मारा छापा पुलिस गार्ड तैनात

नकली रेमदेसीविर इंजेक्शन का मुख्य आरोपी सिटी अस्पताल का संचालक गिरफ्तारी के डर से अपने ही अस्पताल में भर्ती हो गया है सोमवार रात पुलिस टीम पीपीई किट पहनकर सिटी हॉस्पिटल पहुंची जहां मौखा कोविड-19 भर्ती मिला पुलिस अब मौखा का दोबारा कोविड-19 डॉक्टरी परीक्षण कराएगी अस्पताल में पुलिस गार्ड तैनात कर नजरबंद किया गया है ताकि वहां से भाग ना पाए उधर विश्व हिंदू परिषद ने भी मौखा को नर्मदा जिले के नगर अध्यक्ष के पद से हटा दिया है अस्पताल का दवा इंचार्ज देवेश चौरसिया को पुलिस ने सोमवार को न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया मामले में पुलिस ने सरबजीत सिंह मोखा समेत देवेश और सपन जैन के खिलाफ गैर इरादतन हत्या के प्रयास के अलावा धोखाधड़ी और आपराधिक षड्यंत्र की भी धाराएं लगाई है

सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत सिंह मोखा सिटी अस्पताल में भर्ती है उसकी सभी रिपोर्ट की जांच सीएमओ व उनकी टीम से कराई जाएगी अस्पताल में पुलिस गार्ड तैनात कर दी गई