क्राईम ब्रांच एवं ओमती पुलिस की संयुक्त कार्यवाही - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

क्राईम ब्रांच एवं ओमती पुलिस की संयुक्त कार्यवाही

जबलपुर से इंद्रजीत कोष्टा की रिपोर्ट -


👉कोरोना संक्रमण के इलाज में जीवन रक्षक रेमडिसेवर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले 3 आरोपी गिरफ्तार, 12-12 हजार रूपये में बेच रहे थे रेमडिसेवर इंजेक्शन

👉2 रेमडिसिवर इंजैक्शन, 5 मोबाईल जप्त

पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा देश में रेमडिसिवर इंजैंक्शन एवं आॅक्सीजन गैस सिलेण्डर की हो रही कालाबाजारी को ध्यान मे रखते हुये जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियेां एवं थाना प्रभारियों तथा क्राईम ब्रांच को कालाबाजारी मे लिप्त आरोपियेां को चिन्हित करते हुये उनके विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया है।


आदेश के परिपालन मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री रोहित काशवानी (भा.पु.से.) एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध श्री गोपाल खाण्डेल तथा नगर पुलिस अधीक्षक ओमती श्री आर.डी. भारद्वाज के मार्ग निर्देशन में थाना ओमती एवं क्राईम ब्रांच की संयुक्त टीम के द्वारा जीवन रक्षक दवा रेमडेसिविर इंजैक्शन की कालाबाजारी मे लिप्त 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

थाना प्रभारी ओमती श्री एस.पी.एस. बघेल ने बताया कि दिनंाक 13-5-21 की रात में प्रमोद सिह ठाकुर एचआर इंफिनिटी हार्ट इंस्टीट्यूट ने लिखित शिकायत की कि नरेन्द्र सिह ठाकुर नर्सिंग स्टाफ में कार्यरत था उसके पश्चात अस्टिेण्ड डाक्टर के पद पर नवम्बर 2020 से पदस्थ था दिंनाक 9-5-21 के उपरांत बिना सूचना के अपने कार्य से अनुपस्थित है जिसके द्वारा रेमडिसिविर इंजेक्शन की कालाबजारी किये जाने की सम्भावना है ।

शिकायत जांच के दौरान विश्वनीय मुखबिर से सूचना मिली कि तीन व्यक्ति इनफिनिटी हार्ट इंस्टिट्यूट अस्पताल के पास कोरोना महामारी मे लगने वाला 1 रेमडिसिविर इंजैक्शन 12 हजार रूपयों में बेचने की बात कर रहे है। सूचना पर मुखबिर के बताये स्थान में पर क्राईम ब्रांच एवं थाना ओमती की संयुक्त टीम द्वारा दबिश दी गयी, इनफिनिटी हार्ट इंस्टिट्यूट के पास मुखबिर के बताये हुलिये के 3 व्यक्ति खडे दिखे जो पुलिस को देखकर भागने लगे जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा एवं नाम पता पूछा तीनों ने अपने नाम नरेन्द्र ठाकुर पिता रामसिंह ठाकुर उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम किन्दराहो पथरिया जिला दमोह हाल निवासी आमनपुर मदनमहल, एवं राम अवतार पटेल पिता रामनरेश पटेल उम्र 23 वर्ष निवासी ग्राम खिरवा खुर्द विजय राघवगढ, थाना कैमोर जिला कटनी हाल निवासी आगा चैक साई होटल के बाजू वाली गली लार्डगंज, तथा संदीप कुमार प्रजापति पिता कोमल प्रजापति उम्र 22 वर्ष निवासी बघराजी कुण्डम हाथ निवासी कोठारी मेडिकल के पास कोतवाली बताये जिन्हें सूचना से अवगत कराते हुये तलाशी लेते हुये नरेन्द्र सिंह ठाकुर की जेब में रखे हेटेरो कम्पनी के 2 रेमडेसिविर इंजैक्शन कीमती 6980 रूपये के तथा दूसरी जेब मे रख्ेा वन प्लस, जीओनी तथा जियो कम्पनी के 3 मोबाईल, एक काले रंग के बैग में रखा स्टेथेस्कोप, 1 आॅक्सीमीटर, 2 फाईलें एवं रामअवतार पटेल से रियलमी कम्पनी का मोबाईल एवं संदीप कुमार से नोकिया कम्पनी का मोबाईल जप्त करते हुये नरेन्द्र ंिसह ठाकुर, रामअवतार पटेल एवं संदीप पटेल द्वारा बिना वैद्य लायसेंस एवं दस्तावेज के रेमडेसिविर इंजैक्शन को मरोजों को विक्रय करते हुये जिला दण्डाधिकारी के आदेश का उल्लंघन करते हुये लोगों के साथ धोखाधडी करते हुये जीवन रक्षक दवा रेमडेसिविर इंजैक्शन को उच्च दाम पर जरूरतमंद व्यक्तियों को बेचकर अवैध लाभ अर्जित करना पाया जाने पर तीनों के विरूद्ध धारा 188, 420, भादवि एवं 3 महामारी अधिनियम तथा 3, 7 आवश्यक वस्तु अधिनियम का अपराध ंपजीबद्ध कर तीनो को प्रकरण मे विधिवत गिरफ्तार कर पूछताछ करते हुये मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।

उल्लेखनीय भूमिका - जीवन रक्षक दवा रेमडेसिविर इंजैक्शन की कालाबाजारी में लिप्त आरोपियों को पकडने में क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक धनजंय सिंह , विजय शुक्ला, प्रमोद पाण्डेय , प्रधान आरक्षक बृजेन्द्र कंसाना, प्रआर. राममिलन चक्रवर्ती, दीपक तिवारी , आरक्षक नितिन मिश्रा, मोहित उपाध्याय, अजय सोनकर एवं थाना ओमती के उप निरीक्षक सतीष झारिया, सहायक उप निरीक्षक नरेश जाटव की सराहनीय भूमिका रही।