करोड़ों रुपए की खाई बाजी छोटो पर शिकंजा बड़ों पर कार्रवाई करने से बच रही पुलिस - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है


करोड़ों रुपए की खाई बाजी छोटो पर शिकंजा बड़ों पर कार्रवाई करने से बच रही पुलिस



जबलपुर से संतोष जैन की रिपोर्ट -

करोड़ों रुपए की खाई बाजी छोटो पर शिकंजा बड़ों पर कार्रवाई करने से बच रही पुलिस

आईपीएल पर लगाया जा रहा था सट्टा छोटे आरोपियों को ही दबोच रही पुलिस

बड़े नहीं पकड़े गए सांठगांठ की आशंका


आईपीएल शुरू होते ही शहर में रोजाना करोड़ों की लगाई खाई का खेल भी शुरू हो गया है बड़े सटोरियों और बुकी अलग-अलग ठिकानों में बैठकर यह धंधा कर रहे हैं मोबाइल फोन से मोबाइल ऐप तक पहुंच चुके धंधे ने पूर्व में कई कारोबारियों और छात्रों को बर्बाद किया है इसके बावजूद पुलिस बड़े बुकीज के ऊपर कार्यवाही नहीं कर रही है पुलिस ने 4 मामले पकड़े लेकिन वे महज खानापूर्ति हैं

बड़े नहीं पकड़े गए सांठगांठ की आशंका यहां से धंधा किराए के मकान और फ्लैट खेत या फार्म हाउस में होटल और लॉज के कमरों से बुकियों का इन नगरों तक जाल कटनी नरसिंहपुर सतना सिवनी मंडला छिंदवाड़ा सीधी सिंगरौली दमोह सागर यह है मोबाइल एप लाइन किकलाइन बेटफेयर फाइल खाईलगाई किकलाइव लाइन ऑनलाइन क्रिकेट टेबल इन स्पोर्ट्स बेटिंग ऑनलाइनक्रिकेटबेटिंग क्रिकेट सट्टा बाजार क्रिकेटभाव क्रिकेटिकस बाद में इस तरह के मामले आते हैं सामने क्रिकेट खेलने के लिए लिया जाता है कर्ज चुका ना पानी पर करते हैं परेशान भारी रकम न चुका पाने पर और सटोरिए करते हैं परेशान कर और हार का शिकार होने पर कई घर छोड़ देते हैं तो कुछ करते हैं आत्महत्या पर और सटोरियों द्वारा रकम न मिलने पर गंभीर वारदात आईपीएल का सट्टा खिलाने वालों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है पूर्व में गिरफ्तार आरोपियों पर नजर रखी जा रही है वहीं संदेहियो के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल निकाली जा रही है थाना स्तर की टीमों के अलावा साइबर और अन्य टीमों को लगाया गया है

सिद्धार्थ बहुगुणा पुलिस अधीक्षक जबलपुर