समनापुर में एक ही परिवार के नौ लोग मिले संक्रमित - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें.....प्रदेश, संभाग, जिला, तहसील और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

समनापुर में एक ही परिवार के नौ लोग मिले संक्रमित


डिंडौरी (पप्पू पड़वार )। जिलेभर में कोरोना वायरस संक्रमण के एक बार फिर तेजी से फैलने की आहट के चलते प्रशासन गंभीर हो गया है। सोमवार को इसी के चलते संकट प्रबंधन समिति की बैठक कलेक्टर ने बुलाई है। रविवार को जनपद मुख्यालय समनापुर में एक ही परिवार के नौ लोग संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य अमले के हाथ पैर फूल गए। पूरा अमला समनापुर पहुंच गया। बताया गया कि मेडिकल स्टोर संचालक के यहां कोरोना संक्रमित सामने आए हैं। ऐसे में मेडिकल स्टोर को बंद कराने के साथ उनके संपर्क में आए सभी लोगों को जांच कराने के निर्देश दिए जा रहे हैं। शनिवार को भी जिलेभर में चार संक्रमित मिले थे। तेजी से सामने आ रहे मरीजों के चलते जिले में भी लॉकडाउन की स्थिति निर्मित होने की आशंका बन सकती है। तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के बाद भी लोग लापरवाही बरतने से पीछे नहीं हट रहे हैं। बाजार में न तो शारीरिक दूरी का पालन हो रहा है और न ही मास्क लगाए लोग नजर आ रहे हैं।

आयोजनों में उड़ रहीं गाइडलाइन की धज्जियां 

 कलेक्टर ने 18 मार्च को भले ही धारा 144 के तहत कई प्रतिबंध लगाने के आदेश जारी किए हैं, लेकिन उन आदेशों पर अमल नहीं हो रहा है। धड़ल्ले से जिले भर में आयोजन किए जा रहे हैं। इनमें अनुविभागीय अधिकारी से अनुमति भी नहीं ली जा रही है। कलेक्टर द्वारा व्यापारियों को भी आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए थे, जिनमें शारीरिक दूरी का पालन कराने के साथ मास्क लगाने के जिम्मेदारी उन पर थी। रविवार को साप्ताहिक बाजार के दिन जिला मुख्यालय में नियमों को ताक में रखकर व्यापार किया गया।

बिना मास्क के घूम रहे लोग 

 जिला मुख्यालय सहित विकासखंड मुख्यालय शहपुरा, मेहंदवानी, बजाग, करंजिया, समनापुर, अमरपुर के साथ गाड़ासरई, किसलपुरी, शाहपुर, विक्रमपुर, अमेरा, कठौतिया, रूसा, गोरखपुर व ग्रामीण अंचलों में भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। आम दिनों के साथ साप्ताहिक बाजार के दिन भी लोग लापरवाही पूर्वक बिना मास्क के घूमते नजर आ रहे हैं। शारीरिक दूरी का भी पालन नहीं किया जा रहा है। जिला मुख्यालय के मुख्य बस स्टैंड सहित मंडला स्टैंड, पुरानी डिंडौरी, मुख्य बाजार, नर्मदा पुल के आसपास, सब्जी मंडी सहित अन्य स्थानों में भी यही मनमानी का आलम देखा जा रहा है।

संकट प्रबंधन ग्रुप की बैठक में होगी समीक्षा 

 जिले में कोरोना के तेजी से बढ़ रहे खतरे को देखते हुए जिला स्तरीय संकट प्रबंधन ग्रुप की समीक्षा बैठक आज सोमवार को सुबह साढ़े दस बजे कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित होगी। अपर कलेक्टर ने बताया कि कोरोना संकट को लेकर गठित समिति की यह बैठक होगी, जिसमें कई बिंदुओं पर चर्चा की जाएगी। बैठक में अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधि, बस ऑपरेटर, आटो संघ, व्यापारी संघ, मोटर यूनियन के पदाधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

वैक्सीनेशन की जिले में नहीं बढ़ रही गति 

 जिले में वैक्सीनेशन कराने को लेकर जागरूकता की कमी देखी जा रही है। अब तक महज 35 हजार से कम लोगों को ही कोरोना की टीका लग पाया है। कोरोना संकट जब तेजी से बढ़ने के मामले आए तब जिले में केंद्र बढ़ाए गए हैं। ग्रामीण अंचलों में अब भी वृद्धजनों के साथ गंभीर बीमारी से जूझ रहे बड़ी संख्या में लोगों को वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है। जिले में 61 हजार से अधिक साठ वर्ष से अधिक उम्र के वृद्धजन हैं। इनको भी वैक्सीन नहीं लग पाई है। ऐसे में खतरा अधिक देखा जा रहा है।