जबलपुर में टीम के 200 हेल्थ वर्कर 79 वार्ड से जुटाएंगे 10 हजार ब्लड सैंपल, सीरो सर्वे शुरू - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है


जबलपुर में टीम के 200 हेल्थ वर्कर 79 वार्ड से जुटाएंगे 10 हजार ब्लड सैंपल, सीरो सर्वे शुरू

संतोष जैन
जबलपुर. शहर में कोरोना की दूसरी लहर कमजोर रहने के साथ ही आज शुक्रवार 11 दिसम्बर से सीरो सर्वे शुरू हुआ. सुबह नौ बजे 40 टीमों के 200 वर्करों को किट के साथ विक्टोरिया जिला अस्पताल से रवाना किया गया. शहर के 79 वार्डों से करीब 10 हजार ब्लड सैँपल लेकर जांचा जाएगा कि शहर में कोरोना को लेकर एंटीबॉडी कितने प्रतिशत लोगों में बनी है. इससे ये भी पता चलेगा कि शहर में किस क्षेत्र में ज्यादा संक्रमित के केस दबे पांव आए हैं. ऐसे क्षेत्रों में संक्रमण रोकने के लिए अलग से कार्ययोजना तैयार होगी. लगातार नौ दिन तक टीम सर्वे का काम करेगी. प्रतिदिन एक हजार ब्लड सैंपल एकत्र करने का टारगेट दिया गया है. सीरो सर्वे मेडिकल कॉलेज प्रबंधन की देख-रेख में कराया जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से गठित 40 सर्वे टीम सुबह 9 बजे विक्टोरिया अस्पताल पहुंची. वहां टीम को सर्वे-सैंपल कलेक्शन से संबंधित कार्य के लिए किट देकर रवाना किया गया. इससे पहले टीम को सर्वे में रखी जाने वाली सावधानी के बारे में जानकारी दी गई. टीम का प्रशिक्षण पहले ही मेडिकल में हो चुका है. टीम को हर वार्ड से ब्लड सैंपल लेकर मेडिकल कॉलेज की लैब में भेजना होगा. वहां से एंटीबॉडी टेस्ट करके रिपोर्ट तैयार की जाएगी. एक घर से एक सदस्य का लिया जाएगा सैंपल शहरी सीमा में सीरो सर्वे हर वार्ड में होगा. इसके लिए हर वार्ड से करीब 150-170 लोगों का ब्लड सैंपल लिए जाएगा. सर्वे में एक घर से एक व्यक्ति का ही ब्लड सैंपल लिया जाएगा. घर से दूसरे घर की दूरी 10 से 15 घरों की होगी. सर्वे को प्रभावी बनाने के लिए सेंपलिंग में जियो टैगिंग और मैपिंग का उपयोग किया जा रहा है. संवेदनशील क्षेत्र में अलग सर्वे चिन्हित किए गए कोरोना संवेदनशील क्षेत्रों में सीरो सर्वे की अलग से योजना तैयार की जा रही है. टेस्ट के लिए जरूरी एलाइजा किट मेडिकल में आ चुका है. स्वास्थ्य विभाग और नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज (एनएससीबीएमसी) मिलकर सीरो सर्वे की मॉनीटरिंग कर रहे हैं. सभी 40 टीम को प्रतिदिन 20-25 ब्लड सैंपल लेने का टारगेट दिया गया है.