जबलपुर: यूनिफॉर्म सिलाई के नाम पर 300 परिवारों को चूना - Aaj Tak News

Breaking

आज तक 24x7 वेब न्यूज़ व्यूअर से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे औरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406763885 पर व्हाट्सएप्प करें....भारत के समस्‍त प्रदेशों में स्‍टेट ब्‍यूरों, संभाग ब्‍यूरों , जिला ब्‍यूरों, तहसील ब्‍यूरों और ग्राम स्तर पर संवाददाता की आवश्यकता है

जबलपुर: यूनिफॉर्म सिलाई के नाम पर 300 परिवारों को चूना


 जबलपुर (संतोष जैन)



 स्कूल यूनिफार्म की सिलाई करवाने के नाम पर शहर में रहने वाले 300 प.रिवारों के साथ 45 लाख की ठगी का मामला सामने आया है यह कारगुजारी रीवा स्थित राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के दो ब्लॉक प्रबंधकों द्वारा पिछले 1 साल से अंजाम दी जा रही थी इसके बाद जब पीड़ित लोगों का सब्र जवाब दे गया तो उन्होंने विभिन्न ने सरकारी दफ्तरों के साथ ही पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भी अपनी शिकायत दर्ज करवाई है मगर यहां से भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं होने से इन परिवारों की आर्थिक स्थिति बदहाल होती जा रही है


 स्कूल यूनिफार्म के लिए किया था संपर्क 


साई कॉलोनी संचार नगर में रहने वाले संदीप कोष्टा एवं उसके आसपास रहने वाले परिवारों ने बताया कि बीते वर्ष जनवरी फरवरी माह में रीवा स्थित राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के दो ब्लॉक प्रबंधकों द्वारा संपर्क कर उन्हें रीवा के रायपुर कर्चुलियन नामक स्थान पर बुलवाया गया इसके बाद ब्लॉक प्रबंधकों द्वारा उन्हें यूनिफॉर्म सिलाई का कार्य करने की जानकारी दी गई और इस दौरान कुल 3लाख यूनिफॉर्म में संबंधित चर्चा हुई शुरुआत में उन्हें 50,000 और इसके बाद 12000 अतिरिक्त यूनिफॉर्म सिलने का करार करते हुए एडवांस में ₹25000 की राशि प्रदान की गई 


सत्तर रुपए प्रति जोड़ी देने का वादा 



पीड़ितों का आरोप है कि उक्त ब्लॉक प्रबंधकों द्वारा उनसे 300000 यूनिफॉर्म सिलने के एवज में प्रति गणवेश ₹70 प्रदान करने कहा गया था 62000 गणवेश के बावजूद एक पैसा नहीं पीड़ितों का आरोप है कि उन्होंने प्रथम बार में 50000 और दूसरी बार में 12000 यूनिफॉर्म तैयार कर ली 


अपनी जमा पूंजी भी कर दी खर्च 


पीड़ितों का आरोप है कि जब यूनिफॉर्म की सिलाई करने के बाद भी उन्हें ब्लॉक प्रबंधकों द्वारा कोई राशि नहीं दी गई


 मेहनताना पाने अब लिया पुलिस का सहारा


 पीड़ितों का आरोप है कि उनके साथ हुई इस ठगी की शिकायत उन्होंने कई सरकारी दफ्तरों में थी और वहां से भी जब कोई कार्यवाही नहीं हुई तब मजबूरी बस उन्हें पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पहुंचकर अपनी समस्या सुनानी पड़ी 



लिखित शिकायत पर होगी कार्रवाई 


उक्त युवक यदि हमारे पास लिखित में शिकायत करते हैं तो इस मामले में जरूर हम उचित कार्रवाई करेंगे फिलहाल हमारे पास ऐसे किनही युवकों द्वारा बयान दर्ज करवाने संबंधी कोई जानकारी नहीं है 



आर के गौतम टी आई गोहलपुर थाना जबलपुर